सेना की कार्यवाही से अब डरी नेशनल कांफ्रेंस

16 Jan 2018 12:02:40

 


 

आशुतोष मिश्रा

सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत द्वारा जम्मू कश्मीर राज्य की शिक्षा व्यवस्था पर प्रश्न खड़ा करने पर के विरोध में जम्मू  कश्मीर विधानसभा में विपक्षी नेशनल कांफ्रेंस के सदस्यों ने सदन से वाक आउट कर दिया। जनरल रावत ने अपनी एक पत्रकार वार्ता में बोला था कि जम्मू एवं कश्मीर में शिक्षक छात्रों को दो मानचित्र के बारे में बताते हैं, जिनमें एक जम्मू एवं कश्मीर का होता है और एक अन्य भारत का।  इस बयान के बाद राज्य के शिक्षा मंत्री सैयद अल्ताफ बुखारी ने सेना प्रमुख के बयान की आलोचना की और कहा कि वह राज्य के शैक्षणिक मामलों में हस्तक्षेप न करें।

उसके बाद नेशनल कांफ्रेंस के नेता अली मोहम्मद सागर और अन्य विधायकों ने दक्षिण कश्मीर के बाद मध्य और उत्तरी कश्मीर में सेना द्वारा की जा रही कार्रवाई पर प्रदेश सरकार को घेरा है।

नेशनल कांफ्रेंस ने श्रीनगर के हब्बा कदल में सुरक्षा बलों द्वारा चलाये गए तलाशी अभियान पर भी सरकार के बयान की मांग की है। सभी विपक्षी दल ने कहा कि श्रीनगर के हृदय में इस तरह का अभियान 17 वर्षो के अंतराल के बाद हुआ है। नेशनल कांफ्रेंस के नेता अली मोहम्मद सागर ने पूछा, “क्या आप मध्य और उत्तर कश्मीर में भी दक्षिण कश्मीर जैसे हालात पैदा करना चाहते हैं। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी  के विधायक मोहम्मद युसूफ तारिगामी ने कहा कि सेना प्रमुख के बयान के बाद ऐसी स्थिति पैदा हो गई है, जिसमें किसी को पता नहीं है कि राज्य का प्रमुख कौन है। इसके बाद में एनसी विधायक इस मुद्दे के विरोध में सदन से बाहर चले गए।

याद रहे की कुछ दिन पहले केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और जम्मू कश्मीर पुलिस की एक संयुक्त टीम ने श्रीनगर के अवंतभवन क्षेत्र को चारो तरफ से घेर कर तलाशी अभियान चलाया था। क्योकि सुरक्षा बलों को गुप्त सूचना मिली है की कुछ आतंकी इस क्षेत्र में छुपे बैठे है जम्मू कश्मीर पुलिस जिसके बाद से ही केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और जम्मू कश्मीर पुलिस की संयुक्त टीम ने एक तलाशी अभियान चलाया।

लेकीन सदन में इस दौरान कांग्रेस के किसी भी विधान सभा सदस्य ने किसी भी मामले में कोई भी प्रतिक्रिया नहीं की थी इन सभी ने इस मुद्दे पर ना तो नेकां का साथ दिया ना ही नेकां का विरोध किया। नेशनल कांफ्रेंस के विधायकों ने सरकार से जवाब मांगते हुए नागपुर आरएसएस सरकार हाय-हाय, पीडीपी भाजपा सरकार हाय-हाय के नारे लगाते हुए  विपक्ष के नेता उमर अब्दुल्ला समेत अन्य सदस्य सदन से वाक आउट कर गए।

JKN Twitter