सुरक्षा बलों ने सीमा पर फिर मारे तीन पाकिस्तानी रेंजर 

18 Jan 2018 13:10:47

 


आशुतोष मिश्रा

पूरी दुनिया को आतंकवाद देने वाला देश पाकिस्तान एक बार से जम्मू कश्मीर में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। कल देर रात से जम्मू कश्मीर राज्य के जम्मू संभाग में आरएसपूरा और अरनिया इलाके में नियंत्रण रेखा पर भारतीय चौकियों को निशाना बना कर भरी गोलाबारी की गई।

 

पाकिस्ताने रेंजर्स की ओर से की गई गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल का एक जवान शहीद हो गया है। इस गोलाबारी में एक छोटी बच्ची की मौत हुई है और 3 जवान और इतने ही ग्रामीण घायल हो गए है।  शहीद जवान की पहचान 78 बटालियन के सुरेश कुमार के तौर पर हुई है। इसके तुरंत बाद भारतीय सुरक्षा बल पाकिस्तान से लगने वाली 210 किलोमीटर की अन्तरराष्ट्रीय सीमा को तुरंत अलर्ट कर दिया गया है। 

 

भारतीय सुरक्षा बल भी पाकिस्तान को इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब देना शुरू कर दिया। भारत के सुरक्षा बलों की  जवाबी कार्रवाई में तीन पाकिस्तानी जवानों को मौत के घाट उतार दिया गया है।

 

आरएस पुरा सेक्टर में सीमा चौकियों को निशाना बनाते हुए पाकिस्तानी रेंजर्स द्वारा दागे गए मोर्टार कई गावों में भी गिरे है। जिसके कारण इस गोलीबारी में कई गावों के घरों को भी नुकसान पंहुचा है जबकि घरों के दीवार गिर गई हैं। गोलीबारी के कारण लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। पाकिस्तान ने जिन अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया है वह रिहायशी इलाकों से सटा हुआ है। लगातार फायरिंग को देखते हुए अरनिया तहसील के सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है।

सीमा पर अभी भी रामगढ़ और आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से गोलाबारी जारी है, जिसका भारतीय सुरक्षा बल मुहतोड़ जवाब दे रहे है।

 

इससे पहले सेना दिवस के अवसर पर 15 जनवरी को उरी सेक्टर में घुसपैठ कर रहे 5 आतंकियों को और कोटली सेक्टर में संघर्ष विराम तोड़ रहे पाकिस्तानी रेंजरों को उनकी गोलीबारी का जवाब देते हुए  पाकिस्तानी सेना के 7 जवानों को ढेर कर दिया था।  कल भी पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर स्थित भारतीय चौकियों पर गोलीबारी की थी, जिसमे सेना का एक कैप्टन घायल हो गए थे।

JKN Twitter