UN की टीम के दौरे से पहले फिर डरा आतंकी हाफिज सईद, लाहौर हाईकोर्ट में डाली याचिका

24 Jan 2018 13:19:06

Hafiz Saeed

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद् द्वारा नियम 1267 में प्रतिबंधित आतंकी हाफिज सईद के काले कारनामों की  जांच करने के लिए एक प्रतिबंध समिति इस्लामाबाद का दौरा करेगी। लेकिन संयुक्त राष्ट्र के दौरे से पहले ही दुनिया भर में आतंकवाद बढ़ाने वाले इस आतंकी को पाकिस्तान में अपनी गिरफ्तारी का डर सता रहा है।

 इसलिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद प्रतिबंध समिति के इस्लामाबाद पहुचने से पहले ही आतंकी हाफिज सईद ने लाहौर हाईकोर्ट में गिरफ्तारी से बचने के लिए एक याचिका डाल दी है।  क्योकि उसे लगता है कि पाकिस्तान सरकार उसके खिलाफ कार्रवाई करने की योजना बना रही है। आतंकी हाफिज सईद ने पहले भी कहा है कि उसके अपने देश पाकिस्तान की सरकार कभी भी अमेरिकी प्रशासन और भारत  सरकार के दबाव में उसे गिरफ्तार कर सकती है।

हाफिज सईद ने जमात उद दावा और खुद के ऊपर  सरकार द्वारा की जाने वाली किसी भी कार्रवाई से पहले ही   याचिका अदालत में दायर कर दी है। आतंकी की तरफ से दाखिल इस याचिका में अदालत से इंसानियत के आधार पर सरकार से कोई कार्रवाई नहीं करने का निर्देश देने की मांग की है।

इस्लामाबाद द्वारा दुनिया भर की तरफ से लगाए जाने वाले प्रतिबंधों की जाँच करने और नियमों के पालन की समीक्षा करने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् के समिति  पाकिस्तान जा रही है। लेकिन कई मीडिया रिपोर्ट में पहले ही कह दिया गया है कि पाकिस्तान समिति को किसी भी तरह से जमात उद दावा प्रमुख हाफिज सईद या उसके संस्थाओं तक सीधे संपर्क नहीं करने देगा। पाक अधिकारियों ने इस दौरे को नियमित यात्रा ही करार दे रहे है।

 पाकिस्तान लगातार कहता है कि उसने हाफिज पर कड़ी कार्रवाई की है। लेकिन कुछ दिनों पहले ही पाक पीएम अब्बासी ने हाफिज सईद को साहेब कहते हुए कहा था कि उसके खिलाफ पाक में कोई केस दर्ज नहीं है इसलिए मुक़दमा  नहीं चलाया जा सकता। जिसके बाद भारत और अमेरिका ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए साफ कर दिया था कि सईद को  अब भी आतंकी मानते है।

JKN Twitter