जम्मू कश्मीर विधानसभा में फिर गूंजे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

24 Jan 2018 13:31:03

Vidhan Sabhaपाकिस्तान की ओर से अंतर्राष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास बसे गावों में हो रही गोलाबारी को लेकर जम्मू कश्मीर विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ। पाक की गोलाबारी को लेकर विधानसभा  के दोनों सदनों में सरकार विरोधी प्रदर्शन हुए।

राज्य की सरकार में साझीदार भाजपा के सदस्यों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद नारे लगाते हुए, विधानसभा में पाकिस्तान के खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाने के लिए सरकार पर दबाव डाला।

इस विषय पर सरकार की अनदेखी का आरोप लगाते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस के सदस्यों ने सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सदस्यों ने  कहा कि पाकिस्तानी गोलाबारी से लोगों की सुरक्षा करने में सरकार पूरी तरह से विफल रही है। और इसी कारण से  अभी तक 12 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है। सीमा से सटे पूरे इलाकों से लोग पलायन जारी हैं लेकिन सरकार हमारे सवालों का जवाब नहीं दे रही है।

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अली मोहम्मद सागर ने आरोप लगाया कि भाजपा सांसद ने हाल ही में दावा किया कि केंद्र सरकार ने बंकरों के निर्माण के लिए 400 करोड़ रुपये आवंटित कर दिए हैं। तो दूसरी तरफ मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि उन्हें बंकरों की जरूरत नहीं है बल्कि भारत-पाक के बीच संबंधों में सुधार की जरूरत है। लेकिन वर्तमान में  इतने लोगों के मारे जाने के बाद भी सरकार चुप बैठी हुई है। सरकार को अब तो सदन में जवाब देना ही चाहिए।

कांग्रेस के नवांग रिगजिन जोरा ने आरोप लगाया कि सरकार बेबस होकर लोगों की मौत तथा संपत्तियों के नुकसान का तमाशा देख रही है। सरकार को सीजफायर उल्लंघन की घटनाओं को रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए।

भारत पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान  रेंजर्स की तरफ से बिना उकसावे के किये जा रहे संघर्ष विराम का सीमा सुरक्षा बल ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया है। पाकिस्तानी रेंजर्स के खिलाफ ' त्वरित कार्रवाई' करते हुए  चार दिनों में सीमा सुरक्षा बल ने मोर्टार के 9000 से ज्यादा गोले दागे। सीमा सुरक्षा बल की इस सटीक कार्यवाही में पाकिस्तानी रेंजर्स की तरफ से गोलीबारी करने वाले ठिकानों, मोर्टार पोजीशन्स, आयुध और तेल डिपो को नष्ट किया गया है।

JKN Twitter