अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर स्थिति बहुत खराब :- निर्मल सिंह, उपमुख्यमंत्री 

31 Jan 2018 14:17:56

 


आशुतोष मिश्रा

जम्मू कश्मीर राज्य के उपमुख्यमंत्री  निर्मल सिंह राज्य की विधानसभा में ये माना है कि जम्मू कश्मीर राज्य की अन्तर्राष्ट्रीय सीमा रेखा और नियंत्रण  रेखा पर पड़ोसी देश द्वारा की जा रही गोलाबारी के कारण सीमावर्ती इलाकों में हालत ख़राब है।

 

जम्मू कश्मीर राज्य विधानसभा में अन्तर्राष्ट्रीय सीमा रेखा और नियंत्रण रेखा पर बार-बार पाकिस्तानी की तरफ से हो रही गोलाबारी के मामले  को लेकर भारतीय जनता पार्टी और कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्यों ने हंगामा किया।

 

राज्य के उप मुख्यमंत्री ने सदन को बताया की पाकिस्तान के द्वारा की जा रही गोलाबारी के कारण नियंत्रण रेखा पर रहने वाले  ग्रामीणों को सुरक्षित स्थान पर ले जाने का आदेश दिया जा चुका है। गोलाबारी के कारण जिन लोगों ने पलायन किया है, उन्हें प्रशासन सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने का प्रयास लगातार कर रही है। राज्य सरकार लगातार सेना और अन्य सुरक्षा बलों के संपर्क में है जिनसे लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की बात कही गई है।

 

भारत पाकिस्तान सीमा पर युद्ध जैसे हालात अभी भी बने हुए हैं। पाकिस्तान ने फिर से संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए जम्मू कश्मीर में राजौरी जिला के नौशेरा में भीषण गोलाबारी की है। पाकिस्तानी सेना ने रिहायशी क्षेत्रों में काफी देर तक गोलाबारी की जिसका भारतीय सेना ने भी माकूल जवाब दे रही है। नौशेरा सेक्टर के  झांगर, धामका और कलाल पट्टी के गांवों को पाकिस्तान ने निशाना बनाया है।

 

पाकिस्तानी रेंजर जम्मू, कठुआ और सांबा जिलों में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर और पुंछ एवं राजौरी जिलों में नियंत्रण रेखा पर बीते 18जनवरी से लगातार गोलाबारी कर रहे है। पाकिस्तान के तरफ से होने वाली गोलाबारी में अब तक पांच सुरक्षाकर्मी सहित 14 लोग मारे गये है और 70 से ज्यादा लोग घायल हुए है। गोलाबारी के कारण प्रशासन ने अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर स्थित 300 से अधिक स्कूलों को भी बंद कर दिया है।

JKN Twitter