जम्मू में तलाशी अभियान जारी

13 Feb 2018 12:10:37


आशुतोष मिश्रा

जम्मू के रायपुर में सुरक्षाबल सघन तलाशी अभियान चला रहे है। सुरक्षाबलों को रायपुर में कुछ आतंकियों के छुपे होने की सूचना मिली और इस सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने तत्काल आतंकियों के धरपकड़ के लिए पूरे क्षेत्र में सघन तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। सेना, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और राज्य पुलिस का एक संयुक्त दल आतंकियों के कई संदिग्ध ठिकानों की तलाशी ले रहे है। अब तक इस अभियान में सुरक्षाबलों को किसी आतंकी के होने का कोई सुराग नहीं मिला है।

 

घाटी में हुए एक्सीडेंट में लश्कर-ए- तैयबा के दो आतंकी मरे

उत्तरी कश्मीर के बारामूला में एक सड़क दुर्घटना में लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादी मारे गए। ये दोनों ही आतंकी पुलिस से बचने के कारण तेज बर्फबारी में बाइक से कहीं जा रहे थे। उनके पास से हथियार भी बरामद किए गए हैं। पुलिस ने बताया कि जैसे ही आतंकी सोपोर के हारापोरा इलाके में पहुंचे वैसे ही ताजी बर्फबारी में उनकी गाड़ी फिसल गई और वे फिसलते हुए सामने की दीवार से टकरा गए। जिसमें छोटा दुजाना के नाम से मशहूर आतंकी की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दूसरे आतंकी ओवैस बशीर गम्भीर रूप से घायल हो गया। आतंकी ओवैस बशीर मीर स्किम्स में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

छोटा दुजाना लश्कर-ए-तैयबा के उत्तरी कश्मीर का कमांडर था और घाटी में लम्बे समय से सक्रिय था। छोटा दुजाना 2017 में घुसपैठ करके कश्मीर में दाखिल हुआ था। जबकि ओवैस 3-4 दिन पहले ही आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का दामन थामा था। एक अन्य मामले में बडगाम जिले के विद्युत विभाग में काम करने वाले मुहम्मद यूसुफ राठेर की आतंकियों ने गोली मार कर हत्या कर दी। राठेर कार से कही जा रहे थे तभी आतंकियों ने गोली मार कर उनकी हत्या कर दी। खुफियां एजेंसी की माने तो जम्मू कश्मीर में जैश, लश्कर-ए-तैयबा एवं अन्य संगठनों के करीब 360 आतंकी सक्रिय हैं। सीमा पर भारतीय सुरक्षा बलों की सख्ती के कारण पाकिस्तानी आतंकियों के लिए घुसपैठ करना मुश्किल होता जा रहा है।

JKN Twitter