सेना के 3 जवान बर्फीले तूफान की चपेट में आने से शहीद

03 Feb 2018 16:15:36

 


 

आशुतोष मिश्रा

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा के माचिल सेक्टर में कल आए एक बर्फीले तूफान में नियंत्रण रेखा पर स्थित 'सोना पंडी गली' की चौकी  प्रभावित हो गई। जिससे यहां तैनात 21 राजपूत रेजिमेंट के 3 जवान शहीद हो गए जबकि एक जवान घायल हो गया है।  

कुछ दिन पहले बर्फबारी के बाद मौसम विभाग ने हिमस्खलन को लेकर चेतावनी दी थी। विभाग की चेतावनी में कुपवाड़ा में तैनात सेना को भी सतर्क रहने के लिए कहा गया था। कल हुए हिमस्खलन के बाद सेना ने कार्रवाई करते हुए बर्फ में दबे हुए अपने चारों जवानों को निकाल लिया, लेकिन दुर्भाग्य से एक जवान की मौके पर ही शहीद हो गया। बर्फ में दबे अन्य तीन जवानों को सेना के बादामी बाग स्थित 92 बेस अस्पताल ले जाया गया, जहां दो जवानों ने दम तोड़ दिया जबकि घायल जवान बिपिन की हालत स्थिर बनी हुई है। शहीद जवानों की पहचान हवलदार कमलेश सिंह, नायक बलवीर और सिपाही राजिन्द के रूप में हुई है।

मौसम विभाग ने दो दिन पहले ही घाटी के कुपवाड़ा सहित जम्मू कश्मीर राज्य के सभी जिलों में हिमस्खलन को लेकर हाई अलर्ट जारी किया था। अफगानिस्तान-ताजिकिस्तान सीमा क्षेत्र में 6. 2 की तीव्रता वाला भूकंप आने पर उत्तर भारत में कई हिस्सों के थर्राने के बाद यह कदम उठाया गया था।

पिछले साल दिसंबर में भी कश्मीर के कुपवाड़ा और बांदीपोरा में हिमस्खलन हुआ था। उसके साथ ही नौगाम सेक्टर में हुई भारी बर्फबारी में दो जवान लापता हो गए थे, जिनमे से एक जवान का मृत शरीर बाद में मिल गया था। वहीं बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर में आए हिमस्खलन में भी तीन सैनिक बर्फ के नीचे दब गए थे, जिनकी तलाश के लिए सेना ने बचाव अभियान चलाया था।

JKN Twitter