पाकिस्तान विरोधी नारों से गूंजी जम्मू कश्मीर विधानसभा

06 Feb 2018 15:04:39

 


आशुतोष मिश्रा

पाकिस्तान ने रविवार को संघर्ष विराम का उल्लंघन किया जिसमें पाकिस्तानी सेना ने पहली बार एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल से फायर करके भारतीय सेना के चार जवान शहीद कर दिए थे। इस हमले में सेना के 22 वर्षीय कैप्टन कपिल कुंडु, राइफलमैन राम अवतार, शुभम सिंह और हवालदार रोशन लाल शहीद हो गए थे। शहीद कैप्टन कपिल कुंडु का 10 फरवरी को 23वां जन्मदिन है।

इस पूरे घटना के बाद से ही पूरे देश में पाकिस्तान के खिलाफ गुस्से का माहौल है। इस हमले के बाद उप सेना प्रमुख सरत चंद ने कहा कि हम मुंहतोड़ जवाब देने की अपनी कार्रवाई जारी रखेंगे। हमारी कार्रवाई खुद बोलती है। उन्होंने आरोप लगाया है कि पाकिस्तानी फौज आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए बार-बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है।

सेना के ब्रिगेडियर जेएस ने कहा कि हमारे जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। भारतीय सुरक्षाबलों ने भी दो दिन में पाकिस्तान के 15 सैनिकों को मार गिराया है।

इस पूरे घटना पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहीर ने कहा, ‘पाकिस्तान को इस गलती की भारी कीमत चुकानी होगी।’ वहीं जम्मू कश्मीर राज्य विधानसभा में भी पाकिस्तान की गोलीबारी को लेकर भारी हंगामा हुआ। बीजेपी विधायक रवींद्र रैना ने विधानसभा में इस मुद्दे को उठाया। रवींद्र रैना ने नारेबाजी करते हुए पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए।

साल 2017 में भी पाकिस्तान ने 881 बार सीजफायर का उल्लंघन किया था। जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के 138 सैनिक मारे गए। पाकिस्तान ने 2016 में 449 बार युद्ध विराम तोड़ा था। वहीं, साल 2015 में पाकिस्तान ने 405 बार सीजफायर का उल्लंघन किया। पाकिस्तान ने 2014 में भी 583 युद्धविराम तोड़ा था।

 

JKN Twitter