श्रीनगर सेंट्रल जेल में पाकिस्तानी टेरर कनेक्शन, छापेमारी में प्रतिबंधित सामान बरामद

13 Mar 2018 12:45:38


मुकेश कुमार सिंह

जम्मू कश्मीर राज्य के अतिसंवेदनशील श्रीनगर सेंट्रल जेल पर आतंकियों का स्वर्ग होने के आरोप लगते रहे है। खुफियां एजेंसियों को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन अल बद्र के आतंकियों की श्रीनगर सेंट्रल जेल में किसी बड़ी साजिश के इनपुट मिले थे। इसके बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने शानिवार को सीआरपीएफ और एनएसजी कमांडोज के साथ मिलकर श्रीनगर सेंट्रल जेल पर छापेमारी की जिसमें कैदियों के पास से पाकिस्तान कनेक्शन की एक बड़ी साजिश का खुलासा हुआ।

सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर सेंट्रल जेल में इस छापेमारी में एनआईए की 20 टीमों के अतिरिक्त सीआरपीएफ और एनएसजी के कमांडोज शामिल थे। इस छापेमारी में जेल के सभी बैरकों की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान प्रतिबंधित साहित्य, पाकिस्तानी झंडे, आईपैड और 20 ज्यादा सिमकार्ड बरामद किये गये। इन प्रतिबंधित सामाग्री की बरामदगी के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने कैदियों और जम्मू कश्मीर पुलिस के अधिकारियों से पूछताछ शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले श्रीनगर के महाराजा हरि सिंह अस्पताल में इलाज के लिए लाए गए आतंकी नवीद जट पुलिस हिसासत से फरार हो गया था। आतंकी नवीद भागते समय जम्मू कश्मीर राज्य पुलिस के 2 जवानों की हत्या कर दी थी। इस घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया था जिसने 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के अनुसार आतंकी नवीद को भगाने के लिए आतंकियों ने कई बार खुद श्रीनगर सेंट्रल जेल भी गये और यह साजिश जेल में ही रची गयी थी। 

कश्मीर की सबसे संवेदनशील जेल होने के बावजूद जेल प्रशासन की मिलीभगत से आतंकियों को यहां आसानी से सभी संसाधन उपलब्ध हो जाते है। जिससे वे जेल से ही अपनी आतंकी गतिविधियां संचालित करते है। इससे पूर्व भी कई बार ऐसे संसाधनों की बरामदगी की गयी है। सरकार के तमाम कोशिशों के बावजूद अभी तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं हो पाया है।

JKN Twitter