सेना पहनेगी स्वदेश निर्मित बुलेटप्रूफ जैकेट

10 Apr 2018 12:18:03


देश की सेना को अब जल्द ही स्वदेश निर्मित बुलेट प्रूफ जैकेट मिलने लगेगी। सरकार ने सेना की आवश्यकता को देखते हुए लगभग 1.86 लाख स्वदेश निर्मित जैकेट को खरीदने की प्रक्रिया शुरू कर दिया है। 9 साल पहले किए गए अनुरोध के बाद रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को 639 करोड़ रुपये की लागत से इन बुलेट प्रूफ जैकेटों की खरीद के लिए एक रक्षा कंपनी के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर किया है।    

गौरतलब है कि सेना के भीतर बुलेट प्रूफ जैकेट की लम्बें समय से कमी महसूस की जा रही थी। सेना की आवश्यकता को देखते हुए देश की कई बड़ी कंपनियों ने मेक-इन इंडिया प्रोग्राम के तहत बुलेफ प्रूफ जैकेट को तैयार करने का काम शुरू कर दिया है। जिसको सरकार ने प्रोत्साहित भी किया है। सरकार और सेना दोनों ने इन जैकेटों को 360 डिग्री के सुरक्षा मापदंडों पर सख्ती के साथ जांच की जिसमें ये पूर्ण रूप से सही पाई गयी है।

रक्षा मंत्रालय की माने तो ये अपने तरह की एक अलग जैकेट होगी, जिसे विशेष रूप से सेना की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। ये जैकेट बोरॉन कार्बाइड सेरैमिक से बने होंगे, जो बलिस्टिक प्रोटेक्शन के लिए सबसे हल्का पदार्थ है। इस तरह नए बुलेट प्रूफ जैकेट्स कम वजन वाले होंगे। ये जैकेट पूरी तरह अत्याधुनिक हैं और जवानों के शरीर को ज्यादा से ज्यादा कवर प्रदान करेंगे। मॉड्यूटर पार्टस से बनी होने के कारण ये लचीली हैं और यह पहनने में आसान एवं सुविधाजनक भी हैं।

इस साल के पहले ही दिन कश्मीर घाटी के अवंतीपोरा में हुए आतंकी हमले के बाद यह खबर आई थी कि स्टील बुलेट के सामने हमारे जैकेट कमजोर है, जिसके कारण जैकेट में छेद हो रहा था। जिसके कारण उस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के दो जवान शहीद हो गए थे। सरकार ने इस बीच उम्मीद जताई है कि आने वाले दिनों में रक्षा जरूरतों के लिहाज से भारतीय रक्षा उद्योग को सक्षम और समर्थ बनाएंगे।

RELATED ARTICLES
JKN Twitter