चीन के पीछे चलना बंद करे पाक

16 Apr 2018 14:44:54


आशुतोष मिश्रा  

पाकिस्तान के पूर्व राजदूत हुसैन हक्कानी ने अपने देश की सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि पाक को चीन के पीछे चलना बंद करना होगा और पाक को पूरी दुनिया के सामने एक नए विकाशील देश के रूप में आना चाहिए। हक्कानी ने कहा कि अब समय आ गया है जब पाकिस्तान को यह तय करना ही होगा कि उसके लिए आतंकी हाफिज सईद का समर्थन जरुरी है या पूरी दुनिया का विश्वास। अब पाकिस्तान को चीन के ऊपर से अपनी निर्भरता खत्म करनी होगी और पाक को खुद ही एक आत्मनिर्भर अर्थव्यवस्था बनना पड़ेगा।

पूर्व राजदूत ने आगे कहा कि दुनिया के कई ताकतवर देशो ने समय और स्थिति का फायदा उठाते हुए हमेशा पाकिस्तान का उपयोग ही किया है। इसलिए पाक को अब बार-बार लड़ाई के बारे में सोचना बंद कर आर्थिक रूप से मजबूत होने पर विचार करना चाहिए। हुसैन हक्कानी 2008 से 2011 तक अमेरिका में पाकिस्तान के राजदूत रह चुके हैं। उनकी टिप्पणियों ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.15 अरब डॉलर की अमेरिकी सुरक्षा सहायता रोकने में अहम भूमिका निभाई। हक्कानी ने कहा था कि पाक अफगानिस्तान में हक्कानी नेटवर्क और तालिबान की मदद कर रहा है।

पश्तून को नजरअंदाज करना बंद करना चाहिए: पाकिस्तानी वकील

पाकिस्तान के अन्दर ही अब एक बार फिर से पाक सरकार द्वारा किये जा रहे अत्याचार के खिलाफ आवाज उठना शुरू हो गया है। पाकिस्तान के एक वकील बाबर सत्तार ने ट्वीट  करके पाकिस्तान में सभी तरह के मीडिया के ऊपर हो रहे सेंसरशिप का विरोध किया है। वकील ने यह भी कहा कि पाकिस्तान को अब ज्यादा दिनों तक पश्तून लोगों को दबाना बंद करना चाहिए। पाकिस्तान में सरकार द्वारा बंद किये जा रहे जियो टीवी और द जंग समूह का समर्थन किया है। पाकिस्तान की सत्ता संविधान के आर्टिकल 247 और 25 सह-सम्मिलित करने का कदम उठाएगी, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सभी नागरिकों को बराबर माना जाता है। सत्तार ने कहा कि यदि पश्तून लोगों की आवाज आज पाकिस्तानी लोगों के साथ गूंज रही इसलिए ज्यादा दिन तक उनकी आवाज दबाई नहीं जा सकती है।

JKN Twitter