जाधव मामले में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में जवाब दाखिल किया

18 Apr 2018 13:20:52


 

आशुतोष मिश्रा  

भारत ने पाकिस्तान की जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव के मामले में आज अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में अपनी दलील दाखिल की। भारत की ओर से दायर दस्तावेज में पाकिस्तान की ओर से पेश की गई दलीलों का जवाब दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान के एक न्यायालय ने जाधव को जासूसी के एक फर्जी मामले में मौत की सजा सुनाई थी। इसके खिलाफ भारत ने पिछले वर्ष आठ मई को नीदरलैंड के हेग स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय की शरण ली थी। न्यायालय ने भारतीय पक्ष के अनुरोध को स्वीकार करते हुए पाकिस्तान को जाधव की सजा पर अमल करने से रोक दिया था। न्यायालय के निर्देश पर भारत ने अपनी लिखित दलील पिछले वर्ष 13 सितंबर को दाखिल की थी जिसका जवाब पाकिस्तान ने 13दिसंबर को सौंपा था। भारत को इसका जवाब देने के लिए कहा गया था। इस पर आज मंगलवार को भारत ने लिखित जवाब दिया। न्यायालय ने अब पाकिस्तान को अपना पक्ष रखने के लिए 17 जुलाई तक का समय दिया है। विदेश मंत्रालय की एक विज्ञप्ति के अनुसार सरकार कुलभूषण जाधव के अधिकारों की रक्षा के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

रसाना बलात्कार व हत्याकांड को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों और सुरक्षाबलों में झड़प

उत्तरी कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर कस्बे में रसाना हत्याकांड मामले को लेकर डिग्री कालेज सोपोर के छात्रों द्वारा प्रदर्शन किया गया। छात्रों ने मंगलवार को कालेज से बाहर इस मामले को लेकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। डिग्री कालेज सोपोर एक हफ्ता बंद रहने के बाद मंगलवार को खुला था। वहीं प्रदर्शन को रोकने के लिए सुरक्षाबलों द्वारा आंसू गैस के गोले दागे गए, जिसके बाद झड़पें शुरू हो गई। छात्रों ने कालेज के बाहर प्रदर्शन करने से पहले कालेज परिसर में प्रदर्शन कर कठुआ हत्याकांड मामले में न्याय की मांग करते हुए प्रदर्शन व नारेबाजी की। रसाना बलात्कार व हत्याकांड मामले में अब तक आठ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

JKN Twitter