जम्मू कश्मीर में लगे राष्ट्रपति शासनः शिवसेना

03 May 2018 15:36:54


आशुतोष मिश्रा

जम्मू कश्मीर राज्य के शोपियां जिले में स्कूली बस पर पथराव की घटना के बाद शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने केंद्र सरकार से जम्मू कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है।  सांसद सावंत ने कहा कि वर्तमान समय में राज्य की कानून व्यवस्था को देखते हुए अब राज्य सरकार बर्खास्त करके राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाए। दक्षिण मुम्बई से लोकसभा सांसद सावंत ने कहा कि पीडीपी-भाजपा सरकार सभी मोर्चो पर विफल रही है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में कानून का कोई राज नहीं रह गया है। यदि छात्रों पर पत्थर फेंके जा सकते है तो वहां सुरक्षित कौन है। सरकार सभी मोर्चों पर विफल है।

जम्मू कश्मीर के आतंकवाद प्रभावित शोपियां जिले में बुधवार को सुबह पत्थरबाजों ने एक स्कूल बस को निशाना बनाया जिससे एक छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। छात्र के सिर में गंभीर चोटें आई। श्रीनगर के श्री महाराजा हरिसिंह अस्पताल के न्यूरोसर्जरी वॉर्ड में घायल रिहान को गोद में उठाए परिजन जब अस्पताल पहुंचे तो उनकी आंखों में आंसू था। घायल छात्र के पिता ने कहा कि अपने बेटे को इस हाल में देखना बहुत दुखदायी है। बच्चे के पिता ने कहा कि मैं जब भी सीरिया और म्‍यांमार में बच्‍चों की बुरी हालत वाली तस्‍वीरें देखता था तो सिहर उठता था लेकिन आज अपने बच्चे का वैसा हाल देख मैं अंदर तक हिल गया और सोचता हूं सीरिया में बच्चों के अभिभावकों का क्या हाल हुआ होगा। वहीं पत्थरबाजों के खिलाफ शिकायत पर उन्होंने कहा कि मैंने उन्हें माफ कर दिया है।

उन्होंने कहा कि दरअसल मुझे नहीं मालूम की किस युवक ने बस में पत्थर मारा और न ही पुलिस को इस बारे में जानकारी है। छात्र के पिता ने कहा कि मैं नहीं चाहता कि पुलिस किसी बेगुनाह को जेल में डाल दे इसलिए मैंने पत्थरबाजों को माफ कर दिया है। हालांकि उन्होंने इतना जरूर कहा कि बच्चों की बस पर पथराव करना मानवीय नहीं है।

JKN Twitter